चीनी राखी का सांसद लालवानी ने ‘स्वदेशी सांसद राखी’ के रूप में पेश किया विकल्प..!

  
Last Updated:  Friday, July 10, 2020  "05:47 am"

इंदौर : पिछले दिनों सीमा पर चीन की हरकत का जवाब देते हुए हमारे 20 जवान शहीद हो गए थे। तभी से देशभर में चीन के उत्पादों के बहिष्कार की मांग तेज हो गई है। इस बीच इंदौर के सांसद शंकर लालवानी ने चीनी सामान के खिलाफ बड़ी पहल की है। उन्होंने ने चीन में बनी राखियों के विकल्प के बतौर स्वदेशी ‘सांसद राखी’ पेश की है। स्वदेशी राखी बनाने की प्रशिक्षण कार्यशाला का शुक्रवार को उन्होंने शुभारंभ किया।

महिलाओं को दिया जा रहा प्रशिक्षण।

सांसद लालवानी ने ‘आत्मनिर्भर भारत’ अभियान के तहत महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए राखी बनवाने का काम शुरू किया है। उन्हें इसका बकायदा प्रशिक्षण भी दिया जा रहा है।

महिलाओं को निःशुल्क दिया जा रहा राखी बनाने का सामान।

सांसद लालवानी ने बताया कि ‘सांसद राखी’ कार्यक्रम में महिलाओं को देश में ही बना राखी बनाने का सामान निःशुल्क दिया जा रहा है। इन राखियों की दुकान भी लगाई जाएगी और इन्हें ऑनलाइन भी बेचा जाएगा। इन राखियों की बिक्री से प्राप्त राशि राखी बनाने वाली महिलाओं को दी जाएगी।

चीनी सामान का देना होगा विकल्प।

सांसद शंकर लालवानी का कहना है कि चीन को भारतीय बाजार से बाहर करने के लिए योजना बनाकर काम करना होगा। हमें एक-एक करके चीन के सामानों का विकल्प स्वदेशी उत्पादों से देना होगा। हमने राखी से शुरुआत की है और पूरा देश तय कर लें तो राखी हमें चीन से लाने की ज़रुरत नहीं होगी।

सांसद लालवानी ने बताया कि विभिन्न संस्थाओं के सहयोग से कोरोना से सम्बंधित सावधानियों का ध्यान रखते हुए यह प्रशिक्षण कार्यशाला शुरू की गई है। महिलाओं के लिए ये प्रशिक्षण सत्र राखी तक लगातार चलते रहेंगे।

उन्होंने कहा कि वे इस अभियान को और बड़े स्वरुप में ले जाएंगे।
उन्होंने बताया कि कार्यशाला में प्रशिक्षण सोना कस्तूरी एवं एकता मेहता की टीम दे रही है। ये क्रम लगातार जारी रहेगा। कार्यक्रम की व्यवस्था में सुनीता गुरंग, सुनीता जयपाल, टीना नावरे, शुभम सोलंकी और जितेंद्र पारख विशेष योगदान रहा। कार्यक्रम का संचालन कमल आहूजा और आभार सतीश शर्मा ने माना।

Facebook Comments

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *