जबलपुर से स्टील टॉवर पार्ट्स लेकर बांग्लादेश के लिए रवाना हुई मालगाड़ी

  
Last Updated:  Wednesday, November 18, 2020  "04:43 am"

इंदौर : कोरोना काल के बाद रेलवे घाटे की भरपाई करने के लिए नए-नए प्रयोग कर रहा है। इसी के तहत पश्चिम मध्य रेलवे से पहली बार स्टील से भरी एक मालगाड़ी जबलपुर से बांग्लादेश के लिए रवाना की गई है। बांग्लादेश के लिए 24 रैक की मालगाड़ी पनागर के रेपुरा स्टील फैक्ट्री से लोड की गई जिसे रेल मंडल के डीआरएम ने हरी झंडी दिखाई। जबलपुर रेल मंडल के इतिहास में यह पहला मौका है जब कोई मालगाड़ी विदेश के लिए रवाना हुई। दरअसल रेलवे इन दिनों अपनी आमदनी बढ़ाने पर जोर दे रहा है इस वजह से ट्रेन लोडिंग के नियमों को आसान बनाया गया है। बांग्लादेश भेजी गई इस मालगाड़ी से रेलवे मंडल को तकरीबन 45 लाख रुपए किराया मिलेगा। डीआरएम संजय विश्वास ने बताया की गोसलपुर माल गोदाम से इनलैंड वर्ल्ड लॉजिस्टिक्स नाम की कंपनी द्वारा माल गोदाम से आयरन और स्टील के टावर पार्ट्स का पहला रैक बांग्लादेश रेलवे के बेनपोल स्टेशन के लिए रवाना किया गया है। यह ट्रेन कटनी सिंगरौली मार्ग से होते हुए भारतीय सीमा के अंतिम स्टेशन पेट्रापोल होकर बांग्लादेश में प्रवेश करेगी। मालगाड़ी के 24 डिब्बे में लगभग 1400 टन वजन का आयरन और स्टील टावर लदे हुए हैं। जबलपुर से भेजे गए टावर बांग्लादेश के शहरों में असेंबल करके मोबाइल टावर के रूप में इस्तेमाल किए जाएंगे। ट्रांसपोर्ट कंपनी के अधिकारियों का कहना है यह अभी शुरुआत है। इस तरह के रैक आगे भी बांग्लादेश और भारत से सटे अन्य पड़ोसी देशों में भेजे जाएंगे।

Facebook Comments

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *