आकाश के लिए नहीं मांगा टिकट- कैलाशजी

  
Last Updated:  Tuesday, November 6, 2018  "07:34 am"

मप्र में इंदौर सहित शेष बची सभी सीटों पर बीजेपी प्रत्याशियों का एलान जल्दी ही हो जाएगा। पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह को सूची सौंप दी गई है, उनकी हरि झंडी मिलते ही सूची जारी कर दी जाएगी। ये बात बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कही। वे अपने निवास पर पत्रकारों से चर्चा कर रहे थे। उनका कहना था कि बीजेपी सतत जनता के बीच रहकर काम करती है इसलिए प्रचार के लिए समय कम मिलना कोई मायने नहीं रखता। 10 दिन भी मिले तो पार्टी चुनाव लड़ना और जीतना जानती है। टिकट वितरण को लेकर उपजे असंतोष के बारे में कैलाशजी का कहना था कि बहुत कम जगह ऐसा हुआ है। बीजेपी बड़ी और सत्ताधारी पार्टी है इस नाते टिकट चाहने वालों की संख्या भी ज्यादा है। 1990 के दशक में तो चुनाव लड़ने वाले नहीं मिलते थे।

योग्यता हो तो नेता के परिजनों को मिले टिकट

परिवारवाद को लेकर पूछे गए सवाल पर कैलाशजी का कहना था कि अगर नेता पुत्र या पुत्री में योग्यता हो तो उनके लिए टिकट मांगना गलत नहीं है।

गांधी परिवार का वंशवाद गलत

कैलाश विजयवर्गीय ने राहुल गांधी पर तंज कसते हुए कहा कि गांधी परिवार का वंशवाद अनुचित है। राहुल गांधी इतने योग्य हैं कि आलू से सोना निकाल देते हैं।

अपशब्दों का प्रयोग कांग्रेस की संस्कृति

बीजेपी नेता कैलाशजी ने राफेल सौदे को लेकर राहुल गांधी द्वारा पीएम मोदी के लिए ‘ चौकीदार चोर है’ जैसे शब्दों के इस्तेमाल पर पलटवार करते हुए कहा कि अपशब्दों का इस्तेमाल करना कांग्रेस की संस्कृति है। राजनीतिक और सामाजिक माहौल को वे दूषित कर रहे हैं। अगर वे सच्चे हैं तो उन्हें कोर्ट का दरवाजा खटखटाना चाहिए।

आकाश के लिए नहीं मांगा टिकट

कैलाशजी का कहना था कि उन्होंने अपने पुत्र आकाश के लिए टिकट की मांग कभी नहीं की। उनका नाम सर्वे में आगे आया है। इंदौर के 1, 2,3 और 5 नंबर विधानसभा से उनके नाम पर विचार हुआ। जहाँ से टिकट मिलेगा आकाश चुनाव जीतेंगे।

मैं लड़ूंगा या नहीं राष्ट्रीय अध्यक्ष तय करेंगे।

कैलाश विजयवर्गीय ने स्वयं के चुनाव लड़ने के सवाल पर कहा कि वे तो चुनाव लड़ने के लिए हमेशा तत्पर हैं लेकिन लड़ूंगा या नहीं इसका फैसला पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह करेंगे।

नाराज़ नहीं हैं ताई।

कैलाशजी ने इन खबरों पर हैरत जताई कि टिकट वितरण को लेकर लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन नाराज हैं। उनका कहना था कि ताई विदेश दौरे पर थी। संगठन के वरिष्ठ नेता रामलाल की उनसे फोन पर चर्चा हुई थी। उनके इंदौर लौटने के बाद केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर और प्रदेश प्रभारी विनय सहस्त्रबुद्धे ने ताई से विस्तृत चर्चा की थी। इसलिए ये कहना कि ताई नाराज़ हैं, गलत है।

कांग्रेस की किसान कर्ज माफी की बात धोखा है।

कैलाश विजयवर्गीय ने कांग्रेस की किसानों की कर्ज़ माफी की घोषणा को धोखा करार दिया। उनका कहना था कि कांग्रेस पहले भी बिजली बिल माफी के नाम पर किसानों के साथ धोखाधड़ी कर चुकी है।
कैलाशजी ने दावा किया कि बीजेपी बहुमत के साथ जीतकर मप्र में 4 थी बार सरकार बनाएगी वहीं इंदौर की भी सभी 9 विधानसभा सीटें जीतेगी।

Facebook Comments

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *