51 वी राउंड स्क्वेयर इंटरनेशनल कॉन्फ्रेंस इंदौर में होगी

  
Last Updated:  Friday, September 27, 2019  "04:58 am"

इंदौर : 51वी राउंड स्क्वेयर इंटरनेशनल कांफ्रेंस का आयोजन एमरल्ड हाइट्स स्कूल में 2 से 7 अक्टूबर तक किया जा रहा है। इस कांफ्रेंस में विभिन्न देशों के करीब 1 हजार स्कूली बच्चे व शिक्षक भाग लेंगे। कॉन्फ्रेंस में प्रतिदिन ख्यात वक्ता विभिन्न विषयों पर बच्चों को मार्गदर्शन देंगे।
यह जानकारी एमरल्ड हाइट्स स्कूल के निदेशक मुक्तेश सिंह और प्राचार्य सिद्धार्थ सिंह ने पत्रकार वार्ता में दी।
उन्होंने बताया कि कॉन्फ्रेंस में अमेरिका, ब्रिटेन,कनाडा, ऑस्ट्रेलिया, फ्रांस, दक्षिण अफ्रीका और स्विट्जरलैंड सहित 55 से अधिक देशों के बच्चे भाग ले रहे हैं। श्री मुक्तेश और सिद्धार्थ सिंह के मुताबिक महात्मा गांधी की 150 वी जयंती पर 2 अक्टूबर को उनके जीवन से जुड़ी दुर्लभ वस्तुओं और प्राचीन सिक्कों की प्रदर्शनी एमरल्ड स्कूल परिसर राऊ में लगाई जाएगी। इसी के साथ डायनोसोर पर बने डिस्कवरी लैंड का भी शुभारम्भ होगा। इस संग्रहालय में हजारों साल पुराने जीवाश्म को देखने और उनके बारे में जानने का अवसर मिलेगा। इसका शुभारम्भ गुजरात की बालासिनोर रियासत से ताल्लुक रखनेवाली प्रिंसेस आलिया करेगी।
राउंड स्क्वेयर इंटरनेशनल कॉन्फ्रेंस का औपचारिक शुभारम्भ 3 अक्टूबर को होगा। सुबह 9 बजे होनेवाले शुभारम्भ कार्यक्रम के मुख्य अतिथि राउंड स्क्वेयर सोसायटी के चेयरमैन रॉड फ्रेजर करेंगे।

सर्वोदय, द वर्ल्ड वी विश टू सी।

आयोजकों ने बताया कि महात्मा गांधी की 150 वी जयंती के चलते यह कॉन्फ्रेंस उन्हीं के विचारों को समर्पित होगी। आयोजन की थीम होगी ‘सर्वोदय : द वर्ल्ड वी विश टू सी’ । सर्वोदय संस्कृत भाषा का शब्द है। जिसका अर्थ होता है सभी का उत्थान। यही भारतीय संस्कृति और मेजबान एमरल्ड स्कूल की विचारधारा है।

रोबोट नागरिक सोफिया सहित कई हस्तियां करेंगी सम्बोधित।

मेजबान एमरल्ड हाइट्स के निदेशक मुक्तेश सिंह और प्राचार्य सिद्धार्थ सिंह ने बताया कि 7 अक्टूबर तक चलने वाली राउंड स्क्वेयर कॉन्फ्रेंस में दुनिया की पहली रोबोट नागरिक सोफिया आकर्षण का केंद्र होगी। वे कॉन्फ्रेंस में भाग ले रहे बच्चों से रूबरू होकर उन्हें सम्बोधित भी करेंगी। इसके अलावा सांसद शशि थरूर, नोबल पुरस्कार विजेता कैलाश सत्यार्थी, किरण गांधी, मेजर डीपी सिंह और स्वामी श्री गौर गोपाल दास अलग- अलग विषयों पर अपने विचार रखेंगे और बच्चों की जिज्ञासाओं का समाधान करेंगे।
उन्होंने बताया कि 3 अक्टूबर को कैलाश सत्यार्थी और शशि थरूर बच्चों को मार्गदर्शन देंगे। 4 अक्टूबर को रोबोट नागरिक सोफिया का उदबोधन होगा। सोफिया पहली ऐसी रोबो है जिन्हें मानव माना गया है। सऊदी अरब ने उन्हें अपनी नागरिकता दी है। वे बच्चों के सवालों का जवाब भी देंगी। समाज सेवी किरण गांधी भी इसी दिन अपनी बात रखेंगी। 5 अक्टूबर को मेहमान बच्चों को मांडव ले जाया जाएगा। 6 अक्टूबर को महेश्वर दर्शन के साथ बच्चे सेवा कार्य भी करेंगे। कॉन्फ्रेंस के अंतिम दिन मेजर डीपी सिंह और इस्कॉन से जुड़े स्वामी गौर गोपाल दास का सम्बोधन होगा।

विदेशी बच्चे देंगे प्रस्तुति।

आयोजकों के मुताबिक कॉन्फ्रेंस में प्रतिदिन सांस्कृतिक कार्यक्रम पेश किये जाएंगे। विभिन्न देशों से आए बच्चे अपने – अपने देशों की संस्कृति की झलक पेश करेंगे। इससे उन्हें दुनिया भर की संस्कृतियों को देखने और समझने का मौका मिलेगा।
श्री मुक्तेश और सिद्धार्थ सिंह ने बताया कि दुनिया भर से आनेवाले बच्चों और उनके शिक्षकों को इंदौर और मालवा की संस्कृति, खानपान और ऐतिहासिक विरासत से भी रूबरू कराया जाएगा। इससे मालवा व इंदौर विश्व के पर्यटन मानचित्र में अपना स्थान बना सकेंगे।

Facebook Comments

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *