4 साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म कर हत्या करने वाले दरिंदे को अदालत ने सुनाई फांसी की सजा

  
Last Updated:  Monday, February 24, 2020  "02:25 pm"

इंदौर. महू में 4 वर्षीय बालिका से दुष्कर्म के बाद हत्या के मामले में कोर्ट ने आरोपी को फांसी की सजा सुनाई है। 1 दिसंबर 2019 को महू में चक्कीवाले महादेव मंदिर के बाहर सड़क किनारे माता-पिता के साथ सो रही बच्ची को आरोपी उठाकर ले गया था। दूसरे दिन उसका शव 200 मीटर दूर शराब गोदाम के पास बंगला नंबर-122 के खंडहरनुमा कमरे में मिला था। आरोपी ने रेप के बाद बच्ची की हत्या कर दी थी। मौत के बाद वह शव को वहीं छोड़कर घर भाग गया था।

ऐसे हुआ खुलासा…

जांच टीम को मामले में चक्कीवाले महादेव व पुलिस स्टेशन रोड पर दो जगह संदिग्ध के सीसीटीवी फुटेज मिले। फुटेज को आसपास के एरिया में रहने वाले 50 से ज्यादा लोगों को दिखाया। ऑटो रिक्शा चालक गजनी नामक युवक ने फुटेज से आरोपी की पहचान की व बताया यह अंकित विजयवर्गीय है। आरोपी की पहचान होते ही पुलिसकर्मी विजय यादव अंकित पिता कमल सिंह विजयवर्गीय (28) को पकड़ने उसके घर गया। इस दौरान वह घर पर सो रहा था। इसके बाद जब उसे बुलाकर पूछताछ की, तो पहले तो उसने गफलत में डालने की कोशिश की। इस दौरान उसकी मां ने भी यह कहा कि वह तो रात को घर जल्दी आ गया था। इसके बाद उसके सफेद जूते दिखने पर उसे थाने लेकर पहुंचे। यहां थाने में उससे सख्ती से पूछताछ की, तो उसने वारदात कबूली। इसके बाद जब जैकेट जब्त करने की बारी आई, तो पुलिस दोबारा घर पहुंची, इस पर जैकेट को लेकर परिजनों ने विरोध जताया। जब उसके घर में रखी अलमारी की सर्चिंग की, तो वारदात के दौरान उसके द्वारा पहना काला जैकेट भी बरामद हुआ।

बच्ची शोर मचाने लगी तो उसका मुंह दबाया।

आरोपी ने बताया था कि मैंने चक्कीवाले महादेव मंदिर के पास से बच्ची को उठाया व सीधे खंडहर भवन के कमरे में जो ठीया था, वहां लेकर गया। इस दौरान बच्ची से दुष्कर्म की कोशिश की, तो वह जाग गई व शोर मचाने लगी। मैंने उसका मुंह दबाया। उसकी सांसें रुकने लगी, तो लगा मर गई। इसके बाद जब उसकी छाती देखी तो सांसें चल रही थीं। इस पर मैंने दोबारा दुष्कर्म की कोशिश की। इस दौरान बच्ची की सांसें रुक गईं। वह मर गई तो मैं उसे वहीं छाेड़कर अपने घर चला गया।

दो साल पहले बुजुर्ग महिला से भी किया था दुष्कर्म का प्रयास।

आरोपी अंकित आदतन अपराधी है। दो साल पहले भी स्टेशन के पास उसने नशे की हालात में एक बुजुर्ग महिला को दुष्कर्म की नीयत से उठाया था। जैसे ही वह उसे सूनसान जगह ले जा रहा था, तो लोगों ने उसे देख लिया था। उस वक्त उसकी जमकर पिटाई की थी। इस मामले में कोई पुलिस केस दर्ज नहीं हुआ था। वहीं आरोपी ने जिस खंडहर में बच्ची के साथ दुष्कर्म किया, वहां वह पहले भी वैश्यावृत्ति जैसी हरकतें कर चुका है।

चाट का ठेला लगाता था आरोपी।

आरोपी अंकित ने कोदरिया की एक लड़की से लव मैरिज की थी। इसे उसके परिजनों ने अरेंज में तब्दील कर उसकी शादी कराई थी। वारदात के वक्त उसकी पत्नी आठ महीने की गर्भवती थी। आरोपी ने चाट का ठेला लगाने के साथ ही डीजे साउंड आॅपरेटिंग का काम भी किया है। आरोपी नशे व शारीरिक संबंध बनाने का आदी था, इसके चलते वारदात के कुछ दिन पहले भी उसका अपनी पत्नी से विवाद हुआ था।

Facebook Comments

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *