लगातार नारेबाजी से कार्यकर्ताओं पर झल्लाए कमलनाथ, पटवारी ने डपटा बाकलीवाल को…!

  
Last Updated:  Sunday, February 21, 2021  "05:57 am"

फ्लॉप शो साबित हुआ कांग्रेस का कार्यकर्ता सम्मेलन, आधा स्टेडियम रहा खाली।

इंदौर: रेसकोर्स रोड स्थित बास्केटबॉल स्टेडियम में आयोजित कांग्रेस का कार्यकर्ता सम्मेलन अव्यवस्था और बदइंतजामी से भरा रहा। कहने को तो यह संभाग स्तरीय कार्यकर्ता सम्मेलन था लेकिन अन्य जिलों से गिनती के कार्यकर्ता सम्मेलन में पहुंचे।

मंच ठसाठस, स्टेडियम खाली।

करीब 5 हजार बैठक क्षमता वाले बास्केटबॉल स्टेडियम को शहर भर के दिग्गज कांग्रेस नेता और 85 वार्डों में पार्षद के टिकट की दावेदारी करने वाले दावेदार मिलकर भी पूरा नहीं भर पाए। मंच पर कमलनाथ की नजरें इनायत पाने की धकापेल मची रही। छुटभैया से लेकर तमाम बड़े नेता मंच पर कब्जा जमाए बैठे रहे पर स्टेडियम आधा खाली रहा। ऊपरी दोनों गैलरी लगभग खाली थी। नीचे की गैलरियों का भी बड़ा हिस्सा खाली रहा। कुल जमा दो हजार कार्यकर्ता स्टेडियम में मौजूद रहे, बावजूद इसके अव्यवस्था का बोलबाला रहा।

लगातार नारेबाजी से झल्लाए कमलनाथ।

अपने- अपने नेता के समर्थन में डंडे- झंडे लेकर आए कार्यकर्ता कमलनाथ की मौजूदगी में लगातार नारेबाजी करते रहे। रही- सही कसर ढोलक की गूंज ने पूरी कर दी। मंच से नेता भाषण दे रहे थे पर नारेबाजी और ढोलक की गूंज में कौन क्या कह रहा है, इस ओर किसी का ध्यान नहीं था।

जीतू पटवारी ने बाकलीवाल को डपटा।

नारेबाजी कर रहे कार्यकर्ताओं से शहर कांग्रेस अध्यक्ष विनय बाकलीवाल बार- बार शांत रहने की गुजारिश कर रहे थे पर कोई सुनने को तैयार नहीं था। इस बीच विधायक जीतू पटवारी की बोलने बारी आई तो उन्होंने नाराज होते हुए कार्यकर्ताओं को नारेबाजी बन्द करने की नसीहत दी। इस बीच विनय बाकलीवाल कार्यकर्ताओं से कुछ कहने के लिए आए तो पटवारी ने उन्हें भी डपट दिया। कमलनाथ सहित तमाम बड़े नेताओं की मौजूदगी में पटवारी के इसतरह डपटने से बाकलीवाल हतप्रभ रह गए। पटवारी यहीं नहीं रुके, उनके भाषण के बीच कमलनाथ से मिलने का प्रयास कर रही एक महिला पर भी वे नाराज हो गए।

नारेबाजी से झल्लाए कमलनाथ ने दी भाषण बन्द करने की चेतावनी।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष और पूर्व सीएम कमलनाथ बोलने के लिए खड़े हुए, तब भी नारेबाजी नहीं थमीं। लगातार हो रही नारेबाजी से कमलनाथ झल्ला गए। उन्होंने कार्यकर्ताओं को चेतावनी दी कि नारेबाजी बन्द नहीं हुई तो वे भाषण बीच में छोड़ चले जाएंगे। जैसे- तैसे नारेबाजी बन्द हुई और कमलनाथ ने अपना उदबोधन पूरा किया।

देरी से पहुंची साधौ।

इंदौर की प्रभारी बनाई गई विजयालक्ष्मी साधौ लगभग पौन घंटा देरी से मंच पर पहुंची। बाद में उन्होंने कार्यकर्ताओं को संबोधित किया।

कमलनाथ का मालवी परंपरा से किया गया स्वागत।

सम्मेलन में शहर कांग्रेस की ओर से अध्यक्ष विनय बाकलीवाल और अन्य नेताओं ने कमलनाथ को मालवी पगड़ी पहनाकर मालवी परंपरा के अनुसार उनका स्वागत किया। उन्हें हनुमानजी की मूर्ति भी भेंट की गई।

Facebook Comments

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *