पहली कक्षा के बालक ने संस्कृत के 55 श्लोकों का लगातार किया पाठ, इंडियन बुक ऑफ रिकॉर्ड में दर्ज कराया नाम

  
Last Updated:  Thursday, March 18, 2021  "05:44 pm"

इंदौर: डेली कॉलेज में कक्षा पहली में पढ़ने वाले छात्र विहान ने एक बार में ही लगातार संस्कृत के 55 श्लोक सुनाकर सबको चकित कर दिया है। वे ऐसा कारनामा कर दिखाने वाले सबसे कम उम्र के छात्र हैं। विहान की उम्र सिर्फ 6 साल 9 माह है। इस उपलब्धि पर विहान का नाम इंडियन बुक ऑफ रिकॉर्ड में दर्ज किया गया है।
विहान ने आचार्य भगवन्तों की रचना, भक्तामर स्तोत्र, लोग्गस पाठ, नवकार मंत्र, मंगल पाठ, वंदना पाठ, आदि संस्कृत के 55 श्लोकों का सही उच्चारण लयबद्ध ढंग से इंडियन बुक ऑफ रिकॉर्ड की जूरी के समक्ष पेश किया था।
बालक विहान शहर के प्रसिद्ध चार्टर्ड अकाउंटेंट सुधीर पाड़लिया के पोते और विपुल पाड़लिया के सुपुत्र हैं।

Facebook Comments

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *