मोघे ने निमाड़ में कोरोना से उपजे हालात का लिया जायजा, पहली स्टेज में जांच करवाकर इलाज शुरू करने की दी सलाह

  
Last Updated:  Sunday, May 2, 2021  "04:31 am"

इंदौर : भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता पूर्व सांसद कृष्णमुरारी मोघे ने निमाड़ का दौरा कर स्थानीय अधिकारियों, चिकित्सकों और बीजेपी कार्यकर्ताओं से मुलाकात की और ग्रामीण क्षेत्रों में हालात का जायजा लिया। उन्होंने सरकारी अस्पताल में ऑक्सीजन मशीन व कोरोना के इलाज में इस्तेमाल होनेवाली सामग्री भी भेंट की।

इंदौर से कृष्णमुरारी मोघे सबसे पहले भीकनगांव पहुंचे।बीजेपी के प्रदेश वार्ताकार जेपी मूलचंदानी भी उनके साथ थे। मोघे ने वहां भाजपा कार्यकर्ताओं से मुलाकात की। बाद में स्थानीय सरकारी अस्पताल में वरिष्ठ चिकित्सकों से चर्चा कर हालात का जायजा लिया। उन्होंने अस्पताल के लिए ऑक्सीजन मशीन,पीपीई किट,मास्क व अन्य सामग्री भेंट की। वहां से मोघे ने खरगोन प्रस्थान किया। वहां सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए पार्टी के प्रमुख पदाधिकारियों से भेंट कर कोरोना संक्रमण को लेकर ग्रामीणों को जागरूक करने पर जोर दिया। मोघे ने ऑक्सीजन,रेमडेसीविर इंजेक्शन व अस्पतालों में बेड सहित अन्य समस्याओं को लेकर स्थानीय अधिकारियों से भी चर्चा की। वहां से मोघे कसरावद होते हुए रात्रि में इंदौर पहुंचे। कसरावद में भी उन्होंने व्यवस्थाओं का जायजा लिया,स्थानीय प्रशासनिक अधिकारियों से चर्चा कर व्यवस्थाओं के बारे में जाना और अपनी ओर से हरसम्भव सहयोग का आश्वासन दिया।

आत्मबल के साथ करें कोरोना से मुकाबला।

निमाड़ दौरे में कृष्णमुरारी मोघे ने सभी प्रमुख पदाधिकारियों से कहा कि यह समय नकारात्मक नहीं सकारात्मक सोच का है। इस वक्त समाज के प्रति हम सबका दायित्व और अधिक बढ़ जाता है। कोरोना वायरस बीमारी नहीं महामारी है,जिससे हम सब को मिलकर लड़ना है। हम सब हिम्मत से,आत्मबल ऊंचा रखकर कार्य करेंगे तो निश्चित ही कोरोना के खिलाफ जंग को भी जीत लेंगे।आने वाला कल नई ऊर्जा,शक्ति व प्रकाश की ओर हमारा मार्ग प्रशस्त करेगा। वर्तमान में बड़ी समस्या यह है कि कोरोना का संक्रमण अब गांव की तरफ अधिक फैल रहा है। इसके लिए जरूरी है कि हम ग्रामवासियों को जन जागरण के माध्यम से बताएं कि जैसे ही किसी भी व्यक्ति को बुखार, खांसी, सर्दी अन्य कोई लक्षण हो तो तत्काल कोरोना की जांच कराएं। जांच के बाद यदि वह पॉजिटिव आता है तो अपनी परिवार की, समाज की और अपने गांव की सुरक्षा के लिए सबसे पहले वह होम क्वारनटाइन हो जाए या कोविड केयर सेंटर में जाकर अपना उपचार तत्काल शुरू करवाए। यदि फर्स्ट स्टेज पर ही वह उपचार शुरू कर देता है तो अधिक संक्रमण होने से बच जाता है और उसे हॉस्पिटल में आईसीयू की जरूरत नहीं पड़ती। परंतु जब यह बीमारी शरीर में बड़ा रूप ले लेती है तो निश्चित रूप से हम आर्थिक एवं मानसिक रूप से भी परेशान हो जाते हैं। इसीलिए जांच अवश्य कराएं,निश्चित रूप से कराएं और तत्काल उपचार ले जिससे हम जल्द से जल्द ठीक हो जाए।वर्तमान में यह बहुत आवश्यक है
प्रदेश प्रवक्ता जे पी मुलचंदानी ने कहा कि मास्क लगाना,सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना, बार-बार हाथ धोना एवं जरूरत होने पर ही घर से बाहर निकलना इन नियमों का पालन कड़ाई से करने की आवश्यकता है।
इस दौरान पूर्व पार्षद भारत रघुवंशी, बबलू पंडित,दीपक ठाकुर,राजेश माहेश्वरी,दिनेश मामा,रमेश गगराडै, नंदा ब्राह्मडै,दिलीप पटेल,परसराम चौहान,रंजीत डंडीर,बाबूलाल महाजन,कल्याण अग्रवाल,राजेश बड़ोले,सहित अलग-अलग क्षेत्रों के विभिन्न पदाधिकारी मौजूद थे।

Facebook Comments

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *