जातिगत कॉलम हटाकर दुबारा जारी की गई बीजेपी प्रदेश कार्यसमिति की सूची, इंदौर से तीन स्थायी आमंत्रित सदस्य

  
Last Updated:  Wednesday, June 9, 2021  "02:02 pm"

भोपाल : बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा की ओर से प्रदेश कार्यसमिति की सूची मंगलवार देर रात सोशल मीडिया पर जारी की गई। सूची जारी होते ही बवाल मच गया और बीजेपी नेतृत्व को लोगों ने आड़े हाथों लेना शुरू कर दिया। दरअसल बीजेपी वह दर्शाना चाहती थी की उसने प्रदेश कार्यसमिति में सभी वर्गों का ध्यान रखा है। इस कवायद में उसने बड़े से छोटे सभी नेताओं की जातियां तक उल्लेखित कर दी। लेकिन सूची जारी होते ही मामला उल्टा पड़ गया। लोगों ने जातिगत श्रेणी दर्शाने पर बीजेपी नेतृत्व की जमकर खिंचाई की। कड़ी आलोचना होते देख सार्वजनिक की गई सूची तुरंत वापस ले ली गई। बाद में जातिगत कॉलम हटाकर सूची जारी की गई।

जम्बो कार्यसमिति में 400 नाम।

बीजेपी की प्रदेश कार्यसमिति आंचलिक, जातिगत और सिंधिया समीकरण साधने की कवायद में इतनी लंबी हो गई की करीब 400 नाम उसमें शामिल किए गए। इसमें 23 स्थायी, 218 विशेष आमंत्रित सदस्य और 162 सदस्य शामिल हैं।

23 स्थायी आमंत्रित सदस्यों में इंदौर के 3 नाम।

बीजेपी की प्रदेश कार्यकारिणी में सीएम शिवराज सिंह, केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर और ज्योतिरादित्य सिंधिया सहित 23 दिग्गज नेता स्थायी आमंत्रित सदस्य के बतौर शामिल किए गए हैं।इंदौर से तीन नेता इनमें शामिल हैं। राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय, पूर्व लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन और वरिष्ठ नेता कृष्णमुरारी मोघे।

विशेष आमंत्रित 218 सदस्यों में इंदौर से कुल 11 सदस्य शामिल हैं, जिनमें 5 नगर और 6 ग्रामीण क्षेत्र से लिए गए हैं। इंदौर नगर से जिन नेताओं को विशेष आमंत्रित सदस्य बनाया गया है उनमें गोपीकृष्ण नेमा, गोविंद मालू, सांसद शंकर लालवानी, प्रमोद टण्डन और मधु वर्मा के नाम हैं।इनमें प्रमोद टण्डन सिंधिया समर्थक हैं। इसीतरह इंदौर ग्रामीण से गोपाल सिंह चौधरी,सुभाष चौधरी, कंचनसिंह चौहान, राधेश्याम यादव, हुकुमसिंह सांखला और मनोज पटेल को प्रदेश कार्यसमिति में स्थान मिला है।

162 सदस्यों में इंदौर से 9 सदस्य।

बीजेपी प्रदेश कार्यसमिति में 162 नेता सदस्य के बतौर शामिल किए गए हैं। इनमें इंदौर से 9 नेता शामिल हैं। इनके नाम हरिनारायण यादव,विपिन खुजनेरी, मालिनी गौड़, रमेश मेंदोला, सुदर्शन गुप्ता, मुद्रा शास्त्री, अंजू माखीजा, उषा ठाकुर और तुलसी सिलावट बताए गए हैं। विपिन खुजनेरी और तुलसी सिलावट सिंधिया खेमें के हैं।

Facebook Comments

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *