कैलोद में स्थानांतरित होगी छावनी कृषि उपज मंडी, बनेगी एशिया की सबसे स्मार्ट मंडी

  
Last Updated:  Friday, September 3, 2021  "09:43 am"

इंदौर : किसानों और कृषि उपज से जुड़े व्यापार को नई ऊँचाई देने के लिए जिला प्रशासन और जनप्रतिनिधि दृढ़ संकल्पित होकर कार्य कर रहे हैं। इसी कड़ी में छावनी कृषि उपज मंडी को कैलोद गाँव के निकट लगभग सौ एकड़ भूमि में स्थानांतरित करने के एक्शन प्लान के संबंध में गुरूवार को रेसीडेंसी कोठी में सांसद शंकर लालवानी, विधायक आकाश विजयवर्गीय, कलेक्टर मनीष सिंह सहित अन्य जनप्रतिनिधियों ने चर्चा की।बाद में सांसद लालवानी, विधायक विजयवर्गीय, कलेक्टर मनीष सिंह एवं अन्य जनप्रतिनिधि तथा अधिकारीगण कैलोद गाँव में प्रस्तावित ज़मीन का मौक़ा मुआयना करने भी पहुंचे।

इंदौर में कृषि सम्बन्धित कारोबार को मिलेगी नई ऊंचाई।

कलेक्टर मनीष सिंह ने बताया कि कैलोद गाँव के निकट भूमि पर शिफ्ट की जा रही कृषि उपज मंडी एशिया की सबसे स्मार्ट मंडी बनायी जाएगी। यह मंडी कृषकों एवं व्यापारियों की आवश्यकता अनुसार सर्वसुविधायुक्त रहेगी। यहां किसानों को अनाज रखने के लिए गोदाम, ऑनलाइन बैंकिंग के लिए इंटरनेट की सुविधा, पैकेजिंग एवं पॉलीसिंग हेतु आधुनिक मशीनें आदि सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी। विदित है कि छावनी कृषि उपज मंडी का क्षेत्रफल लगभग 12 एकड़ हैं, जो अब किसानों और कृषि उपज से जुड़े व्यापारियों के लिए छोटा पड़ रहा है। किसानों के लिए भी यहां आकर अपनी उपज बेचना अब असुविधाजनक होता जा रहा है। ऐसे में इंदौर में सर्व सुविधायुक्त विशाल मंडी परिसर कृषकों के लिए एक बड़ी सौग़ात साबित होगा। इससे न केवल इंदौर अपितु संभाग के सभी ज़िलों के किसान लाभान्वित हो सकेंगे। बता दें कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में गत जनवरी माह में इंदौर में आयोजित बैठक में किसानों के हित में नए मंडी परिसर को विकसित करने का फ़ैसला किया गया था। मुख्यमंत्री चौहान से प्राप्त निर्देशों के बाद इस दिशा में जनप्रतिनिधियों एवं जिला प्रशासन द्वारा तेज़ी से कार्रवाई की जा रही है।

Facebook Comments

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *