केंद्रीय मंत्री गडकरी और सीएम शिवराज करेंगे 11 हजार करोड़ से अधिक लागत की सड़क परियोजनाओं का लोकार्पण व शिलान्यास

  
Last Updated:  Tuesday, September 14, 2021  "08:51 am"

इंदौर : मध्यप्रदेश में सड़कों का नेटवर्क तेजी से मजबूत हो रहा है। इसी सिलसिले में प्रदेश को 11 हजार 311 करोड़ रूपए लागत की सड़क परियोजनाओं की सौगात मिलने जा रही है। इस राशि से 1530 किलोमीटर लंबी 35 सड़क परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास होगा। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में 16 सितम्बर को इंदौर में आयोजित कार्यक्रम में केन्द्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग तथा सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्री नितिन गड़करी इन परियोजनाओं का लोकार्पण व शिलान्यास करेंगे। इस कार्यक्रम में केन्द्र व राज्य सरकार के अनेक मंत्री, सांसद और विधायकगण भी शामिल होंगे। कार्यक्रम सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय भारत सरकार, भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण व लोक निर्माण विभाग मध्यप्रदेश शासन द्वारा आयोजित किया गया है।

इन परियोजनाओं से भारतमाला इंफ्रास्ट्रक्चर के तहत आर्थिक विकास की रफ्तार तेज होगी। राज्य के मुख्य शहरों से ग्रामीण क्षेत्रों तक आसान पहुंच मिलेगी। पर्यटन में वृद्धि से रोजगार निर्माण होगा। किसान, व्यापारी आदि के समय और धन की बचन होगी। बताया गया कि इस कार्यक्रम में 14 सड़क परियोजनाओं का लोकार्पण होगा और 21 परियोजनाओं का शिलान्यास किया जाएगा। जिन परियोजनाओं का लोकार्पण होगा उनमें मुख्य रूप से इंदौर शहर के 6-लेन बायपास पर स्ट्रीट लाइट सहित सर्विस रोड़, भोपाल- ब्यावरा खंड के 4-लेन के चौड़ीकरण (मुबारकपुर-ब्यावरा), ग्वालियर- झांसी खंड के 4-लेन चौड़ीकरण, मोहगांव-खवासा खंड के 4-लेन चौड़ीकरण , झांसी- खजुराहो खंड के 4-लेन चौड़ीकरण , शुजालपुर-आष्ठा खंड के 2- लेन मय पेक्ड शोल्डर, बमीढ़ा- सतना खंड के 2-लेन चौड़ीकरण सहित 579 करोड़ रूपये लागत से 452 किलोमीटर लंबी 7 सड़क परियोजनाओं के सुदृढ़ीकरण के अन्य कार्य शामिल हैं। इनमें औबेदुल्लागंज-नागपुर खंड के आईआरसीएसपी के अनुसार अपशिष्ट प्लास्टिक सामग्री का उपयोग करके पायलट प्रोजेक्ट, राजेगांव -बालाघाट-तमता ,नैनपुर, मंडला और सागरटोला- शहडोल, डिंडोरी खंड पर, इंदौर-बैतुल खंड पर, दिनारा-पिछोर खंड पर, सवाई माधोपुर-श्योपुर- गौरस-श्यामपुर खंड पर, गुलगंज-अमानगंज-पवई- कटनी खंड पर तथा सागर-छतरपुर खंड पर सुदृढ़ीकरण के कार्य शामिल हैं।

इसी तरह 21 सड़क परियोजनाओं का शिलान्यास होगा। इनमें मुख्य रूप से देवास-उज्जैन खंड के 4-लेन का चौड़ीकरण, बलवारा-धनगांव खंड में नर्मदा नदी पर नवीन सेतु एवं 4-लेन चौड़ीकरण, धनगांव- बोरगांव खंड के 4-लेन चौड़ीकरण, रीवा-बेला खंड के 4-लेन का चौड़ीकरण, उज्जैन-झालावाड़ खंड के 2- लेन मय पेक्ड शोल्डर, नौरादेही सेन्चुरी के शेष खंड के 4-लेन का चौड़ीकरण, मछलिया घाट के शेष खंड के 4-लेन का चौड़ीकरण , माधव नेशनल पार्क के शेष खंड के 4-लेन का चौड़ीकरण , सतना मेहर खंड के 2-लेन मय पेक्ड शोल्डर, सागर-मोहारी खंड के 4-लेन का चौड़ीकरण तथा बामीढ़ा – खजुराहो खंड के 4-लेन का चौड़ीकरण कार्य शामिल है। इसी तरह सीआरआईएफ के अंतर्गत भोपाल स्क्वेयर-इंदिरा गांधी स्क्वेयर तक फ्लायओवर ब्रिज, अतर घाट-सबलगढ़ तेंत्रा-धोवनी (गोवर्धन)- मोहना मार्ग भी शामिल है। इसी तरह 145 करोड़ रूपये लागत की 244 किलोमीटर लंबाई के 8 सुदृढ़ीकरण कार्य भी शामिल हैं। सुदृढ़ीकरण के कार्य में बालाघाट-नैनपुर मंडला-डिंडोरी-सागरटोटा-शहडोल रोड़ बालाघाट-नैनपुर खंड, डिंडोरी- सागरटोटा खंड-शाहदोट खंड,टीकमगढ़- पृथ्वीपुर ओरछा, शाहगढ़-टीकमगढ़,खलघाट- कसरावद- खरगोन-बिष्ठन रोड़, बैतूल (खेडी)-आशापुर,बालाघाट-नैनपुर खंड,इंदौर-बेतूल,ढोलखेड़ी-चौराहा (विदिशा)-महलुआ-चौराहा (कुरवाई) शामिल हैं।

Facebook Comments

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *