इंदौर आकर देवास और सीहोर के दूरस्थ अंचलों में पहुंचे सचिन, सैकड़ों आदिवासी बच्चों की शिक्षा में कर रहे हैं मदद

  
Last Updated:  Tuesday, November 16, 2021  "03:08 pm"

इंदौर : क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले भारतरत्न सचिन तेंडुलकर मंगलवार को मप्र के दौरे पर आए। इंदौर आकर देवास जिले पहुंचे सचिन ने एक एनजीओ के कार्यक्रम में हिस्सा लिया। उसके बाद वे सीहोर जिले के दूरस्थ अंचलों में उनके फाउंडेशन के सहयोग से आदिवासी बच्चों के लिए किए जा रहे कार्यों का जायजा लिया। उन्होंने बच्चों के साथ क्रिकेट खेला और कहा कि वे गरीब बच्चों की शिक्षा में मदद कर अपने पिता के सपने को पूरा कर रहे हैं।

इंदौर आकर देवास के संदलपुर पहुंचे सचिन।

मंगलवार को सचिन तेंडुलकर मप्र की निजी यात्रा पर चार्टर विमान से इंदौर आए। विमानतल से वे सीधे देवास जिले के ग्राम संदलपुर पहुंचे। वहां उन्होंने सचिन तेंडुलकर फाउंडेशन की मदद से स्वयंसेवी संस्था परिवार एजुकेशन सोसायटी द्वारा निर्माणाधीन भवन का अवलोकन किया। यहां से सचिन सीहोर जिले की नसरुल्लागंज तहसील के दूरस्थ अंचलों में परिवार एजुकेशन सोसायटी के माध्यम से चलाए जा रहे सेवा कुटीरों का अवलोकन किया। उन्होंने यहां गरीब आदिवासी बच्चों के लिए जुटाई गई सुविधाओं की भी जानकारी ली।

650 आदिवासी बच्चों की शिक्षा का खर्च उठा रहे हैं सचिन।

दरअसल, क्रिकेट से सन्यास लेने के बाद समाजसेवा में जुटे सचिन तेंडुलकर ने अपने नाम से फाउंडेशन बनाया है। बताया जाता है कि इसके जरिये उन्होंने करीब 650 गरीब आदिवासी बच्चों की शिक्षा का जिम्मा लिया है। मप्र के देवास और सीहोर जिले के सुदूर अंचलों में वे यह प्रोजेक्ट परिवार एजुकेशन सोसायटी नामक स्वयंसेवी संस्था के साथ मिलकर चला रहे हैं। इस संस्था ने सेवा कुटीरों की स्थापना की है, जिनमे गरीब आदिवासी बच्चों को शिक्षा, भोजन और खेल सहित तमाम सुविधाएं प्रदान की जा रही हैं। इसी के साथ इन क्षेत्रों के लोगों के स्वास्थ्य परीक्षण और उपचार की सुविधा भी सचिन अपने फाउंडेशन के जरिए उपलब्ध करवा रहे हैं।

पिता के सपने को कर रहे हैं पूरा।

इस मौके पर सचिन तेंडुलकर ने कहा कि उनके पिता चाहते थे कि गरीब आदिवासी बच्चों को अच्छी शिक्षा मिले। वे उनके सपने को पूरा करने का प्रयास कर रहे हैं। आज वे जीवित होते तो यह काम देखकर बहुत खुश होते।

बच्चों के साथ खेला क्रिकेट।

सचिन तेंडुलकर ने इस मौके पर बच्चों के साथ क्रिकेट खेला और उन्हें ऑटोग्राफ भी दिए। सचिन के आगमन की खबर सोशल मीडिया के जरिए लगते ही देवास और सीहोर जिले में सैकड़ों लोग हाथों में तिरंगा थामकर उन मार्गों पर जमा हो गए, जहां से सचिन का काफिला गुजरने वाला था। उन्होंने सचिन का जोरदार नारेबाजी और पुष्पवर्षा कर स्वागत किया। सचिन का काफिला कहीं भी रुका नहीं पर उन्होंने कार में से ही हाथ हिलाकर अपने प्रशंसकों का अभिवादन किया।

सीएम शिवराज ने सचिन से की बात।

इस बीच मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी भारतरत्न सचिन तेंडुलकर से फोन पर बात की और उनका मप्र आगमन पर स्वागत किया। प्राप्त जानकारी के मुताबिक सचिन तेंडुलकर सीएम के गृह क्षेत्र बुदनी के विवेकानंद सेवा कुटीर आश्रम, सेवनिया लड़कुई भी जाने वाले हैं।

Facebook Comments

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *