इंदौर की महिला मैकेनिक्स को केंद्रीय मंत्री आठवले ने किया सम्मानित

  
Last Updated:  Thursday, November 25, 2021  "02:22 pm"

इन्दौर : समान सोसायटी द्वारा प्रशिक्षित पांच महिला मैकेनिक्स को 23 नवंबर को नईदिल्ली में गर्ल काउंट नेटवर्क द्वारा आयोजित राष्ट्रीय सम्मेलन केन्द्रीय मंत्री रामदास आठवले द्वारा सम्मानित किया गया। इस सम्मेलन में मध्यप्रदेश सहित देश के छह राज्यों गुजरात, महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, पश्चिम बंगाल एवं झारखण्ड की महिला उद्यमी शामिल हुई। इस अवसर पर महिला उद्यमियों की चुनौतियों और सफलताओं पर चर्चा की गई।
गैर परंपरागत् व्यवसायों से जुड़ी महिला उद्यमियों के इस सम्मेलन में इन्दौर की महिला मैकेनिकों का काम अत्यन्त सराहनीय माना गया। देश में पहली बार इन्दौर की महिलाओं ने मैकेनिक के रूप में अपनी पहचान कायम की। देश का पहला महिला मैकेनिक गेराज शुरू करने का श्रेय भी इन्दौर का जाता है।
इस अवसर पर भारत सरकार के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री रामदास आठवले ने कहा कि ‘महिलाएं उद्यमी के रूप में उभरकर अपने परिवार की आर्थिक तरक्की में महत्वपूर्ण योगदान प्रदान कर रही हैं। उनमें व्यवसाय की वे सभी क्षमताएं हैं जो पुरूषों में होती हैं। ये महिलाएं पूरे देश की महिलाओं को रोशनी दिखाएंगी, जिससे अन्य महिलाएं भी उद्यमी के रूप में सामने आ पाएंगी। उन्होंने प्रधानमंत्री कौशल विकास कार्यक्रम का उल्लेख करते हुए कहा कि भारत सरकार के इस कार्यक्रम के जरिए कई महिलाओं को कौशल और व्यवसाय के क्षेत्र में आगे आने का अवसर मिला है।
केंद्रीय मंत्री रामदास आठवले ने इन्दौर की पांच महिला मैकेनिकों सरोज रावत, शिवानी विश्वकर्मा, दुर्गा मीणा, सपना जाधव और भगवती वर्मा को सम्मानित करते हुए कहा कि उनकी यह पहल देश में नया बदलाव लाएगी।

बता दें कि इन महिला मैकेनिकों द्वारा इन्दौर में टूव्हीलर गेराज संचालित किए जा रहे हैं। महिला मैकेनिक द्वारा संचालित इस तरह के गेराज फिलहाल देश में कहीं नहीं हैं। इस अवसर पर समान सोसायटी के निदेशक राजेन्द्र बंधु भी उपस्थित थे।

Facebook Comments

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *