इंदौर को बेहतर स्टार्टअप डेस्टिनेशन बनाने के लिए प्रदेश सरकार प्रतिबद्ध – लालवानी

  
Last Updated:  Monday, June 13, 2022  "09:14 pm"

एआईसी-प्रेस्टीज द्वारा `स्मार्ट सिटी के लिए स्मार्ट स्टार्टअप ‘ विषय पर सेमिनार का आयोजन।

इंदौर : स्मार्ट सिटी के नियोजित विकास के लिए प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में काम कर रहे स्टार्टअप को प्रोत्साहित करने की मंशा से अटल इन्क्यूबेशन सेंटर-प्रेस्टीज इंस्पायर फाउंडेशन द्वारा प्रेस्टीज प्रबंध संस्थान के परिसर में `स्मार्ट सिटी के लिए स्मार्ट स्टार्टअप ‘ विषय पर सेमिनार का आयोजन किया गया। सेमिनार को सम्बोधित करते हुए सांसद शंकर लालवानी ने स्टार्टअप्स को इंदौर स्मार्ट सिटी के समेकित विकास हेतु अपनी सहभागिता देने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि इंदौर को एक बेहतरीन स्टार्टअप डेस्टिनेशन बनाने के लिए राज्य सरकार कृत संकल्पित है।

मध्य प्रदेश सरकार के स्टार्टअप सेंटर के कार्यकारी प्रमुख, अभिषेक बर्दिया ने इस अवसर पर कहा कि राज्य सरकार स्टार्टअप्स को प्रौद्योगिकी, अनुदान तथा विश्व का सर्वश्रेष्ठ पारिस्थितिकी तंत्र प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि नई स्टार्टअप नीति से मध्यप्रदेश स्टार्टअप्स में राष्ट्रीय नेतृत्व प्रदान करेगा।

इंदौर स्मार्ट सिटी के सीईओ ऋषभ गुप्ता ने स्मार्ट सिटी के लिए विभिन्न तकनीकों और समाधानों की आवश्यकताओं पर अपनी बात रखी। उन्होंने स्टार्टअप्स को इंदौर स्मार्ट सिटी में हर संभव सहयोग देने का आश्वासन देते हुए विभिन्न टिप्स और सुझाव भी दिए।

युवाओं के प्रयासों को प्रेस्टीज का समर्थन।

प्रेस्टीज एजुकेशन फाउंडेशन के चेयरमैन डॉ. डेविश जैन ने कहा कि आज युवाओं को अपनी प्रतिभा कौशल का लाभ उठाने और इसे एक बड़े व्यवसाय में बदलने का सबसे अच्छा अवसर दिया जाता है। उन्होंने कहा कि प्रेस्टीज गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान करता रहा है और युवाओं को हर तरह से भविष्य में भी उनके सभी प्रयासों में समर्थन देता रहेगा।

स्टार्टअप्स को हरसंभव मदद करता है एआईसी – प्रेस्टीज।

एआईसी-प्रेस्टीज के सीईओ डॉ. संजीव पाटनी ने कहा कि उनके पास 45+ सक्रिय स्टार्टअप हैं और वे सभी अच्छा काम कर रहे हैं। इन स्टार्टअप को सफल बनाने के लिए टेक्नोलॉजी, फंडिंग, मार्केटिंग आदि की सहायता एआईसी-प्रेस्टीज द्वारा की जाती है।डॉ पाटनी ने कहा कि एआईसी-प्रेस्टीज एक अनूठा इन्क्यूबेशन सेंटर है जो मध्य भारत में स्टार्टअप सफल बनाने के लिए प्रतिबद्ध है। डॉ पाटनी ने कहा, ‘स्टार्टअप, एआईसी-प्रेस्टीज से फंड सहायता प्राप्त कर सकते हैं जो उन्हें स्टार्टअप इंडिया सीड फंड योजना के तहत मंजूर की गई है।

कार्यक्रम के दौरान, कई स्टार्टअप ने अपनी यात्रा, दृष्टि, चुनौतियों और आगे के रास्ते के बारे में अतिथियों को बताया। अतिथियों ने विभिन्न एआईसी -प्रेस्टीज स्थित विभिन्न इनक्यूबेटेड स्टार्टअप से मुलाकात की, उन्हें मार्गदर्शन दिया तथा इन स्टार्टअप्स को अगले स्तर तक ले जाने में पूर्ण समर्थन का वचन दिया। सेमिनार में एसजीएसआईटीएस के निदेशक, डॉ. पी.के.चांदे, अभिषेक संघवी (इकोसिस्टम वेंचर्स), ऋत्विक गर्ग (टीआईई एमपी), मयूर सेठी (इन्वेस्ट इंदौर) भी उपस्थित थे। सेमिनार में शहर के करीब 100 स्टार्टअप ने भाग लिया।

Facebook Comments

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *