शिवपुराण कथा के बैनर – पोस्टर हटाए जाने पर बनीं हंगामें की स्थिति

  
Last Updated:  Wednesday, November 23, 2022  "01:02 pm"

विधायक शुक्ला के समर्थकों ने निगम की कार्रवाई का किया विरोध।

वरिष्ठ नेता कृपाशंकर शुक्ला बैठे धरने पर।

विधायक शुक्ला ने कथा में विघ्न डालने वालों के खिलाफ दी आमरण अनशन की चेतावनी।

इंदौर: कांग्रेस के विधायक संजय शुक्ला द्वारा 24 नवंबर से दलाल बाग में आयोजित पंडित प्रदीप मिश्रा की शिवपुराण कथा की तैयारियों में नगर निगम द्वारा विघ्न डालने का प्रयास किए जाने से विवाद खड़ा हो गया है। दरअसल, निगम के दल द्वारा आयोजन स्थल और मार्ग में लगे कथा के बैनर – पोस्टर और भगवा पताकाएं हटाकर जब्त किए जा रहे हैं। बुधवार को भी नगर निगम का अमला बैनर – पोस्टर हटाने पहुंचा तो आयोजन से जुड़े लोगों ने उसका जोरदार विरोध किया।

पोस्टर फाड़कर किए जब्त।

बताया जाता है कि 24 नवंबर से शुरू होने वाली शिवपुराण कथा के उपलक्ष्य में बुधवार शाम पंडित प्रदीप मिश्रा के सान्निध्य में शोभायात्रा निकाली जा रही है। इसके चलते बाणगंगा कुंड से कथा स्थल दलाल बाग तक के मार्ग को बैनर – पोस्टर और भगवा पताकाओं से सजाया जा रहा था। इस बीच नगर निगम का अमला पहुंचा और मार्ग में लगे बैनर – पोस्टर व भगवा पताकाएं जब्त करने लगा। बताया जाता है कि निगमकर्मी पोस्टर फाड़ने के साथ भगवा पताकाएं निकलकर अपने वाहन में फेंकने लगे। इससे कथा आयोजक विधायक संजय शुक्ला के समर्थक भड़क गए। उन्होंने नगर निगम की कार्रवाई का विरोध करते हुए नारेबाजी शुरू कर दी।विवाद बढ़ते ही कांग्रेस के नेता और कार्यकर्ता भी मौके पर पहुंच गए और निगम की कार्रवाई का विरोध किया। वरिष्ठ नेता कृपाशंकर शुक्ला तो रोड पर कुर्सी जमाकर धरने पर बैठ गए। सूचना मिलने पर पुलिस बल भी मौके पर पहुंच गया। काफी देर तक यहां हंगामें की स्थिति बनी रही।

फिलहाल शहर से बाहर गए हुए विधायक संजय शुक्ला ने आरोप लगाया कि बीजेपी नेताओं के इशारे पर नगर निगम यह मनमानी कार्रवाई कर रहा है। उनकी यह हरकत घोर निंदनीय है। उन्होंने कथा में विघ्न डालने वालों के खिलाफ आमरण अनशन की भी चेतावनी दी है।

Facebook Comments

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *