मराठी स्वाद, संस्कृति, मनोरंजन और खरीददारी की तरुण जत्रा में मिलेगी सौगात

  
Last Updated:  Friday, January 20, 2023  "05:19 pm"

इंदौर: अपने खान पान की संस्कृति से स्वाद की राजधानी के रूप में प्रसिद्ध हो चुके इंदौर शहर के बाशिंदों को अब तरुण जत्रा के माध्यम से मराठी व्यंजनों की दावत मिलने जा रही है।
संस्था तरुण मंच, हीरक जयंती रहवासी संघ और महाराष्ट्र समाज राजेंद्र नगर द्वारा संयुक्त रूप से आयोजित किए जा रहे मेले तरुण जत्रा में 50 से भी अधिक स्वादिष्ट व्यंजनों का आनंद लेने का अवसर इंदौरियों को मिलेगा ।
तरुण जत्रा की विस्तृत जानकारी देते हुए संयोजक मिलिंद महाजन, प्रशांत बडवे और अभिषेक बबलू शर्मा ने बताया की 26 से 29 जनवरी तक स्थानीय दशहरा मैदान अन्नपूर्णा रोड पर आयोजित चार दिवसीय तरुण जत्रा मेले में मराठी स्वाद और संस्कृति का अनूठा संगम देखने को मिलेगा ।
यहां 50 से भी अधिक स्वादिष्ट नमकीन और मीठे मराठी व्यंजनों के स्टॉल लगाए जा रहे हैं, जहां ठेठ मालवणी, कोल्हापुरी, पुणेरी और महाराष्ट्र के अन्य क्षेत्रों के प्रसिद्ध व्यंजनों का जायका लिया जा सकेगा । आमटी मसाला बाटी, मालवणी बड़ा , सांभर बड़ी, पाटोडी रस्सा जैसे व्यंजन पहली बार जत्रा में खाने मिलेंगे । इस वर्ष महाराष्ट्र के प्रसिद्ध चितले बंधु के खाद्य उत्पाद भी तरुण जत्रा में उपलब्ध रहेंगे । महाराष्ट्र के बाहर पहली बार चितले बंधु तरुण जत्रा में अपने खाद्य पदार्थों का स्टॉल लगा रहे हैं । झुनका भाकर, भरीत भाकर, चकली, धीरडे जैसे नमकीन पारंपरिक मराठी व्यंजनों का आनंद भी लिया जा सकेगा । मीठे व्यंजन में पुरण पोली, श्रीखंड, बासुंदी, अनारसे, गुड़ की रोटी जैसे व्यंजन भी उपलब्ध रहेंगे। तरुण जत्रा में 75 से भी अधिक व्यावसायिक स्टॉल्स पर आकर्षक डिस्काउंट्स और विशेष ऑफर के साथ खरीदारी का आनंद भी लिया जा सकेगा।

तरुण जत्रा के भव्य मंच पर प्रतिदिन सांस्कृतिक प्रस्तुतियां भी होंगी । 26 जनवरी को 25 समूहों के 300 से भी अधिक बाल कलाकार सामूहिक प्रस्तुतियां देंगे।गणतंत्र दिवस के अवसर पर इंदौर के प्रसिद्ध गायक विजय पाठक अपनी टीम के साथ देशभक्ति गीतों की प्रस्तुतियां देंगे इसी दिन रात्रि 9.30 बजे दीपों से भारत माता की आरती भी होगी।

27जनवरी को स्थानीय समूहों की नृत्य प्रस्तुति के साथ पारंपरिक मराठी लोक नृत्य गोंधळ, भारुड आदि की प्रस्तुतियां भी दी जाएंगी। 28 जनवरी को मुंबई के सुप्रसिद्ध विधि इवेंट्स के फिल्म और टी वी कलाकारों द्वारा लावणी और महाराष्ट्र के अन्य प्रसिद्ध लोक नृत्यों की प्रस्तुतियां दी जाएगी। अंतिम दिन 29 जनवरी को हिंदू स्वराज्य के संस्थापक छत्रपति शिवाजी महाराज के राज्याभिषेक प्रसंग का भव्य मंचन मुंबई के कलाकारों द्वारा किया जाएगा ।
इसके अलावा प्रतिदिन महिलाओं के लिए आकर्षक खेल होंगे । आकर्षक मराठी वेशभूषा धारण कर जत्रा परिसर में आने वालों को पुरस्कृत भी किया जाएगा।

Facebook Comments

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *