लताजी के नाम पर होगा राजेंद्र नगर में निर्मित ऑडिटोरियम

  
Last Updated:  Wednesday, May 24, 2023  "06:11 am"

प्रभारी मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा की अध्यक्षता में जिला योजना समिति की बैठक संपन्न।

कई प्रस्तावों का बैठक में किया गया अनुमोदन।

मुख्यमंत्री जनसेवा अभियान के दूसरे चरण की प्रगति की बैठक में की गई समीक्षा।

इंदौर : मुख्यमंत्री जन सेवा अभियान के दूसरे चरण में इंदौर ज़िले में अच्छा काम हुआ है। सभी विभागों के अधिकारी अब प्राप्त आवेदनों का सूक्ष्मता से परीक्षण करें और अधिकतम नागरिकों को शासन की योजनाओं का लाभ देना सुनिश्चित करें। यह बात इंदौर ज़िले के प्रभारी मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने बुधवार को रेसीडेंसी कोठी इंदौर में आयोजित जिला योजना समिति की बैठक में कही।

राजेंद्रनगर स्थित ऑडिटोरियम लताजी के नाम पर होगा।

बैठक में राजेन्द्र नगर में निर्माणाधीन ऑडिटोरियम का नाम स्वर कोकिला स्वर्गीय लता मंगेशकर ऑडिटोरियम रखे जाने के प्रस्ताव का अनुमोदन किया गया। वही विधायक रमेश मेंदोला के प्रस्ताव पर नंदा नगर स्थित नवीन शासकीय महाविद्यालय का नाम माँ कनकेश्वरी देवी शासकीय महाविद्यालय इंदौर रखे जाने का निर्णय लिया गया।

इंदौर विकास प्राधिकरण द्वारा फूटी कोठी चौराहे पर निर्मित होने वाले फ्लाईओवर का नामकरण संतश्री सेवालाल के नाम से किए जाने के प्रस्ताव का भी अनुमोदन किया गया।

बैठक में सांसद शंकर लालवानी, विधायक रमेश मेंदोला, पूर्व विधायक सुदर्शन गुप्ता, डॉ. राजेश सोनकर, गोलू शुक्ला, मधु वर्मा सहित अन्य जनप्रतिनिधि एवं कलेक्टर डॉ. इलैया राजा टी, पुलिस कमिश्नर मकरंद देउस्कर सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री जनसेवा अभियान में प्राप्त 91 फीसदी आवेदनों का निराकरण।

बैठक में बताया गया कि जनसेवा अभियान का जिले में प्रभावी क्रियान्वयन हो रहा है। यह अभियान 31 मई तक चलेगा। अभियान के तहत एक लाख 54 हजार से अधिक आवेदन प्राप्त हुए हैं। इनमें से 91 प्रतिशत से अधिक आवेदनों का निराकरण करते हुए एक लाख 41 हजार से अधिक आवेदनों का निराकरण किया जा चुका है। शेष आवेदनों के निराकरण की कार्रवाई भी संबंधित विभागों द्वारा की जा रही है। बताया गया कि लर्निंग लाइसेंस के लिए परिवहन विभाग को 4735 आवेदन मिले थे। इन सभी का निराकरण करते हुए आवेदकों को लर्निंग लाइसेंस दे दिए गए हैं। युवाओं के लर्निंग लाइसेंस बनाने के लिए कॉलेजों में विशेष शिविर आयोजित हो रहे हैं। इसके अच्छे परिणाम मिल रहे हैं। जिले में अभियान के तहत राजस्व प्रकरणों का भी प्राथमिकता से निराकरण हो रहा है। राजस्व विभाग द्वारा चालू खसरा, खतोनी और चालू नक्शे की प्रतिलिपियां देने के लिए प्राप्त सभी 29 हजार 281 आवेदनों का निराकरण करते हुए प्रतिलिपियां संबंधितों को दे दी गयी है।

Facebook Comments

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *