भोपाल का पत्रकार भवन जमींदोस्त…!

  
Last Updated:  Monday, December 9, 2019  "05:11 am"

भोपाल: प्रदेश में मीडिया को रौंदने पर आमादा कमलनाथ सरकार ने भोपाल के पत्रकार भवन पर भी बुलडोजर चलवा दिया। बताया जाता है कि पत्रकार भवन की लीज रिन्यूअल की रिव्यू पिटीशन खारिज कर दिए जाने के बाद बजाय इस इमारत का अधिग्रहण कर उसे पत्रकारों के हित में इस्तेमाल करने के, सरकार ने इमारत को ढहाने के निर्देश स्थानीय जिला प्रशासन और नगर निगम को दे दिए। हालांकि पत्रकार भवन की लीज का मामला हाईकोर्ट से खारिज किए जाने के बाद श्रमजीवी पत्रकार संघ ने अगले सप्ताह सुप्रीम कोर्ट में चुनौती देने की बात कही थी। पर इसका मौका दिए बिना अफसरों ने सोमवार तडक़े नगर निगम के अमले के जरिये भारी पुलिस बल के बीच इस भवन को ढहाने की कार्रवाई शुरु कर दी।कुछ ही घंटों में पूरे भवन को मटियामेट कर दिया गया। इसके लिए करीब आधा दर्जन जेसीबी और अन्य मशीनों का उपयोग किया गया। भवन के मलबे को भी तत्काल हटाने की कार्रवाई शुरू कर दी गई गई थी।

भवन को लेकर लम्बे समय से था विवाद।

ढहाया गया पत्रकार भवन लंबे समय से विवादों में रहा है। पत्रकार भवन पर कब्जे को लेकर दो पत्रकार संगठन झगड़ रहे थे। इसके बाद कोर्ट तक पहुंचा। हाईकोर्ट ने श्रमजीवी पत्रकार संघ और पत्रकार भवन समिति की याचिकाएं खारिज कर दी थी। 1969 में वर्किंग जर्नलिस्ट यूनियन को उक्त जमीन आवंटित की गई थी।

नया मीडिया भवन बनेगा..?

अच्छे खासे पत्रकार भवन को जमीदोस्त करने के बाद सरकार अब उसके स्थान पर नया मीडिया भवन बनाने के सपने दिखा रही है। जनसंपर्क विभाग के अधिकारियों की माने तो पत्रकार भवन की जगह पर सर्वसुविधायुक्त मीडिया भवन बनाया जाएगा, जिसमें पत्रकारों के लिए हर तरह की सुविधाएं रहेंगी।

Facebook Comments

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *