निगमायुक्त ने गोबर से बनें गमलों में किया पौधारोपण

  
Last Updated:  Friday, June 5, 2020  "07:04 pm"

इन्दौर : निगमआयुक्त प्रतिभा पाल ने विश्व पर्यावरण दिवस पर पर्यावरण संरक्षण को ध्यान में रखते हुए ट्रेचिंग ग्राउण्ड में पौधारोपण किया। इस दौरान पुरानी प्लास्टिक सामग्री से बने बर्ड हाउस (परिंदो का आशियाना) ट्रेचिंग ग्राउण्ड के पेड़ों व पोल पर लगाए गए।

गोबर से बनें गमलों में किया पौधारोपण।

निगमायुक्त प्रतिभा पाल ने इसके साथ ही कमला नेहरू प्राणी संग्रहालय में पोधो को रोपने में इस्तेमाल होने वाले प्लास्टिक बेग (काली थैली) के स्थान गोबर से बने गमलो में पौधारोपण का शुभारम्भ किया । इस अवसर पर उपायुक्त कैलाश जोशी, कार्यपालन यंत्री महेश शर्मा, प्राणी संग्रहालय प्रभारी डाॅ. उत्तम यादव, कंसलटेन्ट असद वारसी, ट्रेचिंग ग्राउण्ड प्रभारी कुशवाह, एनजीओ बेसिक्स के गोपाल जागताप, हयुमन मेटिक्स के सनप्रीत व अन्य प्रतिनिधिगण व उपस्थित रहे।
आयुक्त सुश्री पाल ने इस अवसर पर कहा कि विश्व पर्यावरण दिवस पर पर्यावरण संरक्षण के मद्देनजर ट्रेचिंग ग्राउण्ड में 500 से अधिक पौधे रोपे गए। इसके साथ ही एनजीओ हयुमन मेटिक्स के सहयोग से पुराने प्लास्टिक आइटम्स का उपयोग कर 300 से अधिक परिंदो के आशियाने ट्रेंचिंग ग्राउण्ड में पेडो व पोल्स पर लगाए गए ।

पूरे शहर में लगाएंगे बर्ड हाऊस।

एनजीओ संस्थान ह्यूमन मेटिक्स के सहयोग से निगम द्वारा शहर में 3 से 4 हजार बर्ड हाउस बनवाकर लगाए जाएंगे।
आयुक्त सुश्री पाल ने कहा कि पर्यावरण संरक्षण के उददेश्य से गोबर से गमले बनाकर उनमें पौधे लगाने के अभियान की शुरुआत की गई है। गोबर से बने गमले मे ंपानी और मिटटी भी कम मात्रा में लगेगी और पर्यावरण बचाव के क्रम में पोलिथीन की थैली के स्थान पर गोबर से बने गमलो का उपयोग किया जा सकेगा।उन्होने कहा कि निगम व एनजीओ के माध्यम से निगम की नर्सरी में गोबर से बने गमलो का उपयोग किया जावेगा, जिसके पश्चात अन्य नर्सरियों व नागरिकों को भी गोबर के गमले के उपयोग करने हेतु प्रोत्साहित किया जावेगा।
आयुक्त सुश्री पाल ने प्राणी संग्रहालय में पेड-पौधो के वेस्ट व अन्य वेस्ट से खाद बनने की प्रक्रिया को भी देखा। यहां 1 टन क्षमता का पेड- पौधों की पत्तियों से खाद बनाने का प्लांट लगा हुआ है। उसका भी अवलोकन निगमायुक्त ने किया।

Facebook Comments

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *